Aankho Mein Qayamat Ke Kajal / आँखों में कयामत के काजल

आँखों में कयामत के काजल
होठों पे ग़ज़ब की लाली है
बंदापरवर कहिए किसकी 
तक़दीर सँवरने वाली है

सदके मैं तुम्हारी बाहों के जो आग लगा दे पानी में 
कुर्बान तुम्हारी आँखो के जो भर दे रंग जवानी में 
मर जाऊँ तुम्हारे गालोंपर जिन में के गुलो की लाली है

ये आपकी मस्ती का आलम, ये बहके हुए जज़बात मेरे
कुछ कह ना सका मैं दीवाना कहते है मगर हालात मेरे
या आप नशे मे डूबे हैं, या मेरी नज़र मतवाली है

#Biswajeet #Babita #ManmohanDesai

Aankho Mein Qayamat Ke Kajal Lyrics

Ankhon men kayaamat ke kaajal
Hothhon pe gjb ki laali hai
Bndaaparawar kahie kisaki 
Takdir snwarane waali hai

Sadake main tumhaari baahon ke jo ag laga de paani men 
Kurbaan tumhaari ankho ke jo bhar de rng jawaani men 
Mar jaaun tumhaare gaalonpar jin men ke gulo ki laali hai

Ye apaki masti ka alam, ye bahake hue jajbaat mere
Kuchh kah na saka main diwaana kahate hai magar haalaat mere
Ya ap nashe me dube hain, ya meri najr matawaali hai

  

Leave a comment

Your email address will not be published.