Adayein Bhi Hain / अदायें भी हैं, मोहब्बत भी है, शराफ़त भी है, मेरे मेहबूब में

अदायें भी हैं, मोहब्बत भी है, शराफ़त भी है, मेरे मेहबूब में
वो दीवानापन, वो जालिम अदा, शरारत भी है, मेरे मेहबूब में

अदायें भी हैं, मोहब्बत भी है, नज़ाकत भी है, मेरे मेहबूब में
वो दीवानापन, वो मासूमियत, शरारत भी है, मेरे मेहबूब में

ना पूछो मेरा दिल कहाँ खो गया, तुझे देखते ही तेरा हो गया
आँखों में तू, मेरे ख्वाबों में तू है, यादों के महके गुलाबों में तू है
वो सहमी नज़र, वो कमसीन उमर, चाहत भी है, मेरे मेहबूब में

साँसों की बहती लहर रुक गयी, मुझे शर्म आयी, नज़र झूक गयी
के हम उन के कितने करीब आ गये, ये सोच के हम तो घबरा गये
वो बांकपन, वो दीवानगी, इनायत भी है, मेरे मेहबूब में

मोहब्बत की दुनिया बसाने चला, मैं तेरे लिये सब भूलाने चला
खुशबू कोई उसकी बातों में है, हर फ़ैसला उसके हाथों में है
वो महका बदन, वो शर्मिलापन, नज़ाकत भी है, मेरे महबूब में

#AmirKhan #PoojaBhatt #MaheshBhatt

Adayein Bhi Hain Lyrics

Adaayen bhi hain, mohabbat bhi hai, sharaaft bhi hai, mere mehabub men
Wo diwaanaapan, wo jaalim ada, sharaarat bhi hai, mere mehabub men

Adaayen bhi hain, mohabbat bhi hai, najaakat bhi hai, mere mehabub men
Wo diwaanaapan, wo maasumiyat, sharaarat bhi hai, mere mehabub men

Na puchho mera dil kahaan kho gaya, tujhe dekhate hi tera ho gaya
Ankhon men tu, mere khwaabon men tu hai, yaadon ke mahake gulaabon men tu hai
Wo sahami najr, wo kamasin umar, chaahat bhi hai, mere mehabub men

Saanson ki bahati lahar ruk gayi, mujhe sharm ayi, najr jhuk gayi
Ke ham un ke kitane karib a gaye, ye soch ke ham to ghabara gaye
Wo baankapan, wo diwaanagi, inaayat bhi hai, mere mehabub men

Mohabbat ki duniya basaane chala, main tere liye sab bhulaane chala
Khushabu koi usaki baaton men hai, har faisala usake haathon men hai
Wo mahaka badan, wo sharmilaapan, najaakat bhi hai, mere mahabub men

  

Leave a comment

Your email address will not be published.