Apna Hai Tu Begana Nahin / अपना है तू बेगाना नहीं, मैंने तुझे पहचाना नहीं

अपना है तू बेगाना नहीं, मैंने तुझे पहचाना नहीं 
ये सच हैं अफ़साना नहीं, मैंने तुझे पहचाना नहीं 

आँखें न जाने दिल जानता है 
रंग लहू का लहू पहचानता है 
ये पर्दा उठ जाये, शायद याद आ जाये 
रुक जा जरा अभी जाना नहीं 

जब देखूँ तुझको लगता है ऐसे 
तू मेरे दिलका कोई टुकड़ा है जैसे 
बाते हैं बेगानी नज़रें हैं अन्जानी  
चेहरा मगर अन्जाना नहीं 

बस ख़त्म होती है ये कहानी 
में दे चला हूँ तुझे अपनी निशानी 
दिल को ना तड़पाना, मुझको भूल ना जाना 
लेकिन मुझे याद आना नहीं 

अपना हूँ मैं बेगाना नहीं, तूने मुझे पहचाना नहीं 

#PradeepKumar #LeenaChandavarkar

Apna Hai Tu Begana Nahin Lyrics

Apana hai tu begaana nahin, mainne tujhe pahachaana nahin 
Ye sach hain afasaana nahin, mainne tujhe pahachaana nahin 

Ankhen n jaane dil jaanata hai 
Rng lahu ka lahu pahachaanata hai 
Ye parda uthh jaaye, shaayad yaad a jaaye 
Ruk ja jara abhi jaana nahin 

Jab dekhun tujhako lagata hai aise 
Tu mere dilaka koi tukada hai jaise 
Baate hain begaani nazaren hain anjaani  
Chehara magar anjaana nahin 

Bas khatm hoti hai ye kahaani 
Men de chala hun tujhe apani nishaani 
Dil ko na tadapaana, mujhako bhul na jaana 
Lekin mujhe yaad ana nahin 

Apana hun main begaana nahin, tune mujhe pahachaana nahin 

 

Leave a comment

Your email address will not be published.