Bholi Si Surat / भोली सी सूरत आँखों में मस्ती Lyrics in Hindi

भोली सी सूरत आँखों में मस्ती 
आय हाए 

अरे भोली सी सूरत आँखों में मस्ती 
दूर खड़ी शर्माए 
आय हाए 

एक झलक दिखलाये कभी 
कभी आँचल में छुप जाये 
आय हाए 

मेरी नज़र से तुम देखो तो 
यार नज़र वो आये 

लड़की नहीं है, वो जादू है और कहा क्या जाये 
रात को मेरे ख्वाब में आई वो ज़ुल्फ़ें बिखराये 
आँख खुली तो दिल चाहा, फिर नींद मुझे आ जाये 
बिन देखे ये हाल हुआ, देखूँ तो क्या हो जाये 

सावन का पहला बादल उसका काजल बन जाए 
मौज उठे सागर में जैसे, ऐसे कदम उठाये
रब ने जाने किस मिटटी से उसके अंग बनाये 
छम से काश कहीं से मेरे सामने वो आ जाये

#ShahrukhKhan #MadhuriDixit #KarishmaKapoor #YashChopra
#FilmfareBestMusicDirector

Bholi Si Surat Lyrics

Bholi si surat ankhon men masti 
Ay haae 

Are bholi si surat ankhon men masti 
Dur khadi sharmaae 
Ay haae 

Ek jhalak dikhalaaye kabhi 
Kabhi anchal men chhup jaaye 
Ay haae 

Meri nazar se tum dekho to 
Yaar nazar wo aye 

Ladaki nahin hai, wo jaadu hai aur kaha kya jaaye 
Raat ko mere khwaab men ai wo zulfen bikharaaye 
Ankh khuli to dil chaaha, fir nind mujhe a jaaye 
Bin dekhe ye haal hua, dekhun to kya ho jaaye 

Saawan ka pahala baadal usaka kaajal ban jaae 
Mauj uthhe saagar men jaise, aise kadam uthhaaye
Rab ne jaane kis mitati se usake ang banaaye 
Chham se kaash kahin se mere saamane wo a jaaye

   
 

Leave a comment

Your email address will not be published.