Chup Hai Dharti / चुप है धरती, चुप हैं चाँद सितारे Lyrics in Hindi

चुप है धरती, चुप हैं चाँद सितारे
मेरे दिल की धड़कन तुझको पुकारे

खोये खोये से ये मस्त नज़ारें
ठहरे ठहरे से ये रंग के धारें
ढूँढ रहे हैं तुझको साथ हमारे

कोने कोने मस्ती फैल रही है
बाहें बनकर हस्ती फैल रही है
तुझ बिन डूबे दिल को कौन उभारे

निखरा निखरा सा है चाँद का जोबन
बिखरा बिखरा सा है नूर का दामन
आ जा मेरी तनहाई के सहारे

#DevAnand

Chup Hai Dharti Lyrics

Chup hai dharati, chup hain chaand sitaare
Mere dil ki dhadkan tujhako pukaare

Khoye khoye se ye mast najaaren
Thhahare thhahare se ye rng ke dhaaren
Dhundh rahe hain tujhako saath hamaare

Kone kone masti fail rahi hai
Baahen banakar hasti fail rahi hai
Tujh bin dube dil ko kaun ubhaare

Nikhara nikhara sa hai chaand ka joban
Bikhara bikhara sa hai nur ka daaman
A ja meri tanahaai ke sahaare

Leave a comment

Your email address will not be published.