Din Guzar Gaya / दिन गुज़र गया ऐतबार में Lyrics in Hindi

दिन गुज़र गया ऐतबार में 
रात कट गई इंतज़ार में 
वो मज़ा कहाँ वस्ल-ए-यार में 
लुत्फ़ जो मिला इंतज़ार में  

उनकी एक नज़र काम कर गई 
होश अब कहाँ होशियार में 

मेंरे कब्ज़े में कायनात है 
मैं हूँ आपके इख़्तियार में 

आँख तो उठी फूल की तरफ 
दिल उलझ गया हुस्न-ए-खार में 

तुझसे क्या कहें कितने ग़म सहे
हमने बेवफ़ा तेरे प्यार में 

फ़िक्र-ए-आशियां हर खिज़ा में की 
आशियां जला हर बहार में 

किस तरह ये ग़म भूल जाएँ हम 
वो जुदा हुआ इस बहार में 

Din Guzar Gaya Lyrics

Din gujr gaya aitabaar men 
Raat kat gi intajaar men 
Wo maza kahaan wasl-e-yaar men 
Lutf jo mila intajaar men  

Unaki ek najr kaam kar gi 
Hosh ab kahaan hoshiyaar men 

Menre kabje men kaayanaat hai 
Main hun apake ikhtiyaar men 

Ankh to uthhi ful ki taraf 
Dil ulajh gaya husn-e-khaar men 

Tujhase kya kahen kitane gm sahe
Hamane bewafa tere pyaar men 

Fikr-e-ashiyaan har khija men ki 
Ashiyaan jala har bahaar men 

Kis tarah ye gm bhul jaaen ham 
Wo juda hua is bahaar men 

Leave a comment

Your email address will not be published.