Ek Parwaz Dikhai Di Hai / एक परवाज़ दिखाई दी है Lyrics in Hindi

एक परवाज़ दिखाई दी है 
तेरी आवाज़ सुनाई दी है 

जिसकी आँखों में कटी थी सदियाँ
उसने सदियों की जुदाई दी है

सिर्फ एक सफ़हा पलट कर उसने
सारी बातों की सफाई दी है

फिर वही लौट के जाना होगा 
यार ने कैसी रिहाई दी है

आग में क्या क्या जला है शब भर 
कितनी खुशरंग दिखाई दी है

Ek Parwaz Dikhai Di Hai Lyrics

Ek parawaaz dikhaai di hai 
Teri awaaz sunaai di hai 

Jisaki ankhon men kati thi sadiyaan
Usane sadiyon ki judaai di hai

Sirf ek safaha palat kar usane
Saari baaton ki safaai di hai

Fir wahi laut ke jaana hoga 
Yaar ne kaisi rihaai di hai

Ag men kya kya jala hai shab bhar 
Kitani khusharng dikhaai di hai

Leave a comment

Your email address will not be published.