Gori Chalo Na Hans Ki Chaal / गोरी चलो ना हंस की चाल Lyrics in Hindi

गोरी चलो ना हंस की चाल ज़माना दुश्मन है 
तेरी उमर है सोलह साल ज़माना दुश्मन है
कुछ परवाह नहीं सरकार ज़माना दुश्मन हो
मुझे तुमसे हुआ है प्यार ज़माना दुश्मन हो

ओ चाँद सी उजली हसीना तुम छोड़ दो आना जाना 
रोकेगा तुम्हारी राहें हम जैसा कोई दीवाना 
कोई लाख लगाए पहरे मैं पहरे तोड़ के आऊँ 
हूँ तेरे मिलन की प्यासी मैं दुनिया छोड़ के आऊँ 

ये इश्क़ है आग का दरिया तुम सोच समझ के उतरना
हैं इसमें हज़ारों तूफ़ाँ आसान नहीं है गुज़रना 
जब प्यार का बंधन बाँधा फिर आग हो या हो पानी
डर जाए वो कैसी उल्फ़त डर जाए वो कैसी जवानी

#Mehmood #ShubhaKhote

Gori Chalo Na Hans Ki Chaal Lyrics

Gori chalo na hns ki chaal zamaana dushman hai 
Teri umar hai solah saal zamaana dushman hai
Kuchh parawaah nahin sarakaar zamaana dushman ho
Mujhe tumase hua hai pyaar zamaana dushman ho

O chaand si ujali hasina tum chhod do ana jaana 
Rokega tumhaari raahen ham jaisa koi diwaana 
Koi laakh lagaae pahare main pahare tod ke aun 
Hun tere milan ki pyaasi main duniya chhod ke aun 

Ye ishq hai ag ka dariya tum soch samajh ke utarana
Hain isamen hazaaron tufaan asaan nahin hai guzarana 
Jab pyaar ka bndhan baandha fir ag ho ya ho paani
Dar jaae wo kaisi ulfat dar jaae wo kaisi jawaani

 

Leave a comment

Your email address will not be published.