Har Taraf Ab Yahi Afsane Hain / हर तरफ अब यही अफसाने हैं Lyrics in Hindi

हर तरफ़ अब यही अफ़साने हैं
हम तेरी आँखों के दीवाने हैं

कितनी सच्चाई है इन आँखों में
खोटे सिक्के भी खरे हो जाएँ
तू कभी प्यार से देखे जो उधर
सूखे जंगल भी हरे हो जाएँ
बाग़ बन जाए जो वीराने हैं

एक हल्कासा इशारा इनका 
कभी दिल और कभी जाँ लूटेगा 
किस तरह प्यास बुझेगी उसकी 
किस तरह उसका नशा टूटेगा 
जिसकी क़िस्मत में ये पैमाने हैं 

नीची नज़रों में है कितना जादू
हो गए पल में कई ख़्वाब जवाँ
कभी उठने, कभी झुकने की अदा
ले चली जाने किधर, जाने कहाँ
रास्ते प्यार के अनजाने हैं 

#RajKumar #PriyaRajvansh #ChetanAnand

Har Taraf Ab Yahi Afsane Hain Lyrics

Har taraf ab yahi afasaane hain
Ham teri ankhon ke diwaane hain

Kitani sachchaai hai in ankhon men
Khote sikke bhi khare ho jaaen
Tu kabhi pyaar se dekhe jo udhar
Sukhe jngal bhi hare ho jaaen
Baag ban jaae jo wiraane hain

Ek halkaasa ishaara inaka 
Kabhi dil aur kabhi jaan lutega 
Kis tarah pyaas bujhegi usaki 
Kis tarah usaka nasha tutega 
Jisaki qismat men ye paimaane hain 

Nichi najron men hai kitana jaadu
Ho ge pal men ki khwaab jawaan
Kabhi uthhane, kabhi jhukane ki ada
Le chali jaane kidhar, jaane kahaan
Raaste pyaar ke anajaane hain 

  

Leave a comment

Your email address will not be published.