Chand Madham Hai Aasman Chup Hai / चांद मद्धम है आसमां चुप है Lyrics in Hindi

चांद मद्धम है आसमां चुप है
नींद की गोद में जहां चुप है

दुर वादी में दूधिया बादल
झुक के पर्वत को प्यार करते हैं
दिल में नाकाम हसरतें लेकर
हम तेरा इंतजार करते हैं

इन बहारों के सायें में आ जा
फिर मोहब्बत जवां रहे ना रहे
ज़िंदगी तेरे नामुरादों पर
कल तलक़ मेहरबां रहे ना रहे

रोज कि तरह आज भी तारे
सुबह कि गर्द में ना खो जाएं
आ तेरे ग़म में जागती आंख़ें
कम से कम एक रात सो जाएं

चांद मद्धम है आसमां चुप है
नींद की गोद में जहां चुप है

Chand Madham Hai Aasman Chup Hai Lyrics

Chaand maddham hai asamaan chup hai
Nind ki god men jahaan chup hai

Dur waadi men dudhiya baadal
Jhuk ke parwat ko pyaar karate hain
Dil men naakaam hasaraten lekar
Ham tera intajaar karate hain

In bahaaron ke saayen men a ja
Fir mohabbat jawaan rahe na rahe
Zindagi tere naamuraadon par
Kal talaq meharabaan rahe na rahe

Roj ki tarah aj bhi taare
Subah ki gard men na kho jaaen
A tere gam men jaagati ankhen
Kam se kam ek raat so jaaen

Chaand maddham hai asamaan chup hai
Nind ki god men jahaan chup hai

Leave a comment

Your email address will not be published.