Do Pal Ruka Khwabon Ka Karwan / दो पल रुका, ख्वाबों का कारवां Lyrics in Hindi

दो पल रुका, ख्वाबों का कारवां
और फिर चल दिए, तुम कहाँ हम कहाँ 
दो पल की थी, ये दिलों की दास्तां
और फिर चल दिए, तुम कहाँ हम कहाँ 

तुम थे के थी, कोई उजली किरन
तुम थे या कोई कली मुस्काई थी
तुम थे या सपनों का था सावन
तुम थे के खुशियों की घटा छाई थी
तुम थे के था कोई फूल खिला
तुम थे या मिला था मुझे नया जहां

तुम थे या खुशबू हवाओंमें थी
तुम थे या रंग सारी दिशाओं में थे
तुम थे या रोशनी राहों में थी
तुम थे या गीत गूँजे फिजाओं में थे
तुम थे मिले या मिली थी मंजिले
तुम थे के था जादूभरा कोई समा

#ShahrukhKhan #PreityZinta #YashChopra

Do Pal Ruka Khwabon Ka Karwan Lyrics

Do pal ruka, khwaabon ka kaarawaan
Aur fir chal die, tum kahaan ham kahaan 
Do pal ki thi, ye dilon ki daastaan
Aur fir chal die, tum kahaan ham kahaan 

Tum the ke thi, koi ujali kiran
Tum the ya koi kali muskaai thi
Tum the ya sapanon ka tha saawan
Tum the ke khushiyon ki ghata chhaai thi
Tum the ke tha koi ful khila
Tum the ya mila tha mujhe naya jahaan

Tum the ya khushabu hawaaonmen thi
Tum the ya rng saari dishaaon men the
Tum the ya roshani raahon men thi
Tum the ya git gunje fijaaon men the
Tum the mile ya mili thi mnjile
Tum the ke tha jaadubhara koi sama

  

Leave a comment

Your email address will not be published.